आदिपुरुष पर लगे इस्लामीकरण के आरोप:सर्व ब्राह्मण महासभा ने डायरेक्टर ओम राउत को भेजा नोटिस, 7 दिन में विवादित सीन हटाने की दी चेतावनी

आदिपुरुष पर लगे इस्लामीकरण के आरोप:सर्व ब्राह्मण महासभा ने डायरेक्टर ओम राउत को भेजा नोटिस, 7 दिन में विवादित सीन हटाने की दी चेतावनी

टीजर रिलीज के बाद से ही आदिपुरुष का विवाद जोरों पर है। टीजर देखने के बाद से ही, लोग फिल्म को बैन करने की मांग कर रहे हैं। इसी बीच अब फिल्म के डायरेक्टर ओम राउत को सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से नोटिस भेजा गया है। नोटिस में फिल्म मेकर से माफी मांगने को कहा गया है। एडवोकेट कमलेश शर्मा की तरफ से भेजे गए इस नोटिस में सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से कहा गया है कि सात दिनों में फिल्म से सभी विवादित सीन्स को हटा दिया जाए, नहीं तो मेकर्स कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार रहें।

नोटिस में ओम राउत को दी चेतावनी
सर्व ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की तरफ से भेजे गए नोटिस में लिखा गया है- इस फिल्म में हिंदू देवी-देवताओं को गलत तरीके से दिखाया गया है। इतना ही फिल्म में हिंदू देवी-देवताओं को चमड़े के जूते और कपड़े पहने दिखाया गया है। इतना ही नहीं नोटिस में फिल्म पर आरोप लगाया कि फिल्म में देवी देवाता बेहद अभद्र तरीके से बोलते हुए दिखाए गए हैं। इतना ही नहीं आदिपुरुष में भगवान हनुमान को भी मुगल दिखाया गया है।

फिल्म में बेहद निम्न स्तर की भाषा बोली गई है, जो कि लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाती है। फिल्म में धार्मिक और जातिगत नफरत फैलाने वाले सीन्स डाले गए हैं। रामायण हमारा इतिहास और हमारी आत्मा है, हम इसके साथ खिलवाड़ नहीं देख सकते हैं।

फिल्म पर लगे इस्लामीकरण के आरोप
नोटिस में आदिपुरुष पर इस्लामीकरण के आरोप लगाए गए हैं। नोटिस में आगे लिखा गया है- कैन सा हिंदू बिना मूंछों के दाढ़ी रखता है, जो भगवान हनुमान जी को फिल्म में इस तरह से दिखाया गया है। आदिपुरुष फिल्म में रावण का रोल निभाने वाले सैफ अली खान भी तैमूर या खिलजी की तरह नजर आ रहे हैं। फिल्म देश में धार्मिक भावनाओं को भड़काकर लोगों के बीच नफरत फैलाने की कोशिश करती है। नोटिस में कहा गया है, 'आप ऐसी फिल्म बना रहे हैं जिससे करोड़ों हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं, इसलिए फिल्म के सीन्स में तुरंत बदलाव करें।