आईआईटी कानपुर के असिस्टेंट प्रोफेसर ने की खुदकुशी, पंखे से लटका मिला शव

आईआईटी कानपुर के असिस्टेंट प्रोफेसर ने की खुदकुशी, पंखे से लटका मिला शव

आईआईटी कानपुर में कंप्यूटर एंड इंजीनियरिंग के असिस्टेंट प्रोफेसर प्रमोद सुब्रमण्यम (35) ने बुधवार दोपहर को परिसर में ही बने आवास में फांसी लगाकर जान दे दी। प्रमोद ने आत्महत्या क्यों की, इस बारे में कोई जानकारी नहीं हो सकी है।


उनकी पत्नी प्रीति भी आईआईटी में ही कंप्यूटर एंड इंजीनियरिंग में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं। मूल रूप से बंगलूरू के रहने वाले प्रमोद दो साल से यहां पर कार्यरत थे। संस्थान की ओर से आवंटित टाइप-3 आवास में पत्नी प्रीति और तीन साल के बच्चे के साथ रहते थे।
दोपहर को प्रमोद ने अपने कमरे में पंखे से रस्सी के सहारे फांसी लगा ली। कमरे में पहुंची प्रीति ने जब पति को फंदे पर लटकते देखा तो संस्थान के अधिकारियों को जानकारी दी। प्रमोद को उतारकर संस्थान के मेडिकल सेंटर ले जाया गया। यहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। कल्याणपुर इंस्पेक्टर अजय सेठ ने बताया कि आत्महत्या का कारण अभी स्पष्ट नहीं है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।
 
कई प्रोजेक्टों पर कर रहे थे काम 
प्रमोद ने दो साल पहले आईआईटी ज्वाइन किया था। उनके पास कई प्रोजेक्ट थे। साइबर सिक्योरिटी इनोवेशन हब में भी वे शामिल थे। डायरेक्टर अभय करंदीकर ने कहा कि प्रमोद की मृत्यु संस्थान के लिए बड़ी क्षति है। 

आईआईटी के प्रोफेसर और छात्र स्तब्ध, पसरा सन्नाटा 
प्रमोद सुब्रमण्यम की आत्महत्या की सूचना मिलते ही पूरे संस्थान में सन्नाटा पसर गया। संस्थान में कार्यरत सभी प्रोफेसर, अधिकारी और छात्र स्तब्ध हैं। संस्थान के मेडिकल सेंटर के बाहर काफी संख्या में लोग एकत्र रहे।